नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। कोरोनावायरस महामारी के विकराल रूप धरने से जीवन-अस्त व्यस्त हो चुका है। लोगों का काम-धाम धंधा ठप पड़ा है। आमदनी बंद है। ऐसे में सबसे बड़ा संकट उनके लिए है जो दिहाड़ी करके अपना गुजारा चलाते हैं। कोरोना के इलाज के लिए सरकार लगातार प्रयासरत है। देश के लोग 21 दिन के लॉकडाउन का पालन कर रहे हैं। यह एक ऐसी बीमारी है जिसका अभी तक इलाज नहीं निकल पाया है। ऐसे में इंश्योरेंस पॉलिसी इस संकट के समय में अच्छा काम कर सकती है। दरअसल, डिजिटल पेमेंट प्लेटफार्म PhonePe ने कोरोनोवायरस के इलाज के लिए बुधवार को एक बीमा पॉलिसी शुरू करने की घोषणा की है। इसका नाम ‘कोरोना केयर’ है। इस पॉलिसी का Premium 156 रुपये है और यह 55 साल से कम उम्र के व्यक्ति के लिए 50,000 रुपये का बीमा कवर देती है। कवर किसी भी अस्पताल के लिए लागू है जो COVID-19 के उपचार के लिए है।

इसके अलावा इस पॉलिसी में अस्पताल में भर्ती होने के 30 दिनों के पहले का खर्च और पोस्ट-केयर चिकित्सा उपचार की शामिल है। ग्राहकों को पॉलिसी खरीदने के लिए किसी भी मेडिकल टेस्ट की जरूरत नहीं है और यह ग्राहकों के घर जाकर किया जा सकता है।

PhonePe ने इसपर कहा कि इस प्रक्रिया में केवल दो मिनट का समय लगेगा और पॉलिसी दस्तावेज ग्राहकों को ऐप पर तुरंत इसे जारी कर दिया जाएगा।

देश में इस खतरनाक वायरस के अब तक कुल 1397 मामले आ चुके हैं। इस बीमारी से 123 लोग ठीक हो गए हैं या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है और एक मरीज को दूसरी जगह भेजा गया है। कुल 49 विदेशी भी इस बीमारी से पीड़ित हैं। अबतक 35 ने कोरोना से जान गंवाई है। कोरोना वायरस अब थर्ड स्टेज में अपना रंग दिखा रहा है। देश की सबसे अधिक आबादी वाले राज्य उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण से बुधवार को दो लोगों की मौत हो गई।

कोरोना से जुड़ी कोई जानकारी लेने या देने के लिए हेल्पलाइन नंबर +91-11-23978046 पर फोन कर सकते हैं। इसके अलावा हर राज्य ने अपना हेल्पलाइन नंबर जारी किया हुआ है।